Connect with us

Business

Delhi : सफदरजंग इलाके में हुई बिजनेसमैन की हत्या की गुत्थी को पुलिस ने सुलझाया

Published

on

नई दिल्ली। 31 मार्च को सफदरजंग इलाके में हुई बिजमैन की हत्या को क्राइम ब्रांच ने सुलझा लिया है।
पुलिस ने हत्या के आरोप में एक महिला को गिरफ्तार किया है। आरोपी महिला की पहचान उषा उर्फ अंजलि उर्फ विक्की उर्फ निकिता के रूप में हुई है वह पानीपत की रहने वाली है आरोपी महिला ने लूटपाट के इरादे से अपनी एक साथी के साथ मिलकर उसकी हत्या की थी।

विशेष पुलिस आयुक्त क्राइम ब्रांच रविंद्र सिंह यादव ने बताया 31 मार्च को सफदरगंज थाना पुलिस को एक सूचना मिली थी कि एक आदमी होटल के कमरे में मृत पड़ा है। पुलिस जब मौके पर पहुंची और जांच की तो मृत युवक के मुंह से खून निकल रहा था और उसके पास एक नोट पड़ा मिला जिस पर लिखा था. “आप एक नाइस पर्सन है, सॉरी सॉरी सॉरी, मेरी बहुत ज्यादा मजबूरी थी जो आपके साथ यह किया। एक्स्ट्रीमली सॉरी यार” शव की पहचान दीपक सेठी के रूप में हुई जो मयूर विहार का रहने वाला था। जांच में पता चला कि दीपक सेठी कल शाम 8:30 बजे एक होटल में एक महिला के साथ आया था और वह महिला करीब रात 12:30 बजे होटल से अपनी वैगनआर कार में निकली थी। इस सनसनीखेज हत्याकांड की गुत्थी को सुलझाने के लिए क्राइम ब्रांच की कई टीमों को लगाया गया। पुलिस टीम ने सभी टेक्निकल और मैनुअल सर्विलांस के आधार पर जांच शुरू की।
जांच के दौरान अंजलि नामक महिला का आधार कार्ड मिल गया लेकिन आधार कार्ड की जांच करने पर वह फर्जी निकला इसके बाद पुलिस ने दीपक सेठी का मोबाइल नंबर हासिल किया जिसमें से 5 सौ से अधिक नंबरों का विश्लेषण करने के बाद टीम को कुछ नंबर पर संदेह हुआ मोबाइल नंबर जिस आईडी से लिया गया था वह भी फर्जी निकला। पुलिस के सामने चुनौती थी कि इन 500 नंबरों में से किस नंबर को जीरो इन किया जाए। जांच के दौरान पता चला कि यह मोबाइल फोन 23 मार्च को संत गढ़ दिल्ली में कहीं रिचार्ज किया गया था पुलिस की टीम संतगढ़ पहुंची और काफी मशक्कत के बाद उस दुकान का पता लगाया जहां से संदिग्ध मोबाइल फोन रिचार्ज कराया गया था। जिसके बाद पुलिस ने उनको एक नाइजीरियाई नागरिक चिडे ने रिचार्ज कराया था. जब उससे पूछताछ की गई तो उसने बताया कि यह फोन निक्की उर्फ़ सुनीता का है जो उसके लिव इन पार्टनर मधुमिता की दोस्त है लेकिन उसे निकिता और निक्की के बारे में पता नहीं है। पुलिस ने उन नंबरों में से निकिता का नंबर ढूंढ निकाला और टीम ने पानीपत की एक सोसाइटी न्यू हाउसिंग बोर्ड में छापा मारकर आरोपी उषा उर्फ अंजलि और निक्की और निकिता को गिरफ्तार कर लिया।

पुलिस को उसके कब्जे से मृतक का नीला बैग, सोने की अंगूठी नकली आधार कार्ड और अपराध में प्रयुक्त मोबाइल फोन भी बरामद हुआ। पूछताछ में आरोपी निक्की उर्फ निकिता ने खुलासा किया कि की हत्या के बाद उसने ही यह नोट लिखा था. जांच के दौरान पता चला कि निकिता इतना सिंह के एक मामले में हरियाणा में जेल जा चुकी है। जेल में उसकी मुलाकात मधुमिता से हुई। जहां पर दोस्त बन गए और संत गढ़ में एक साथ रहने लगे. 30 मार्च को मृतक दीपक सेठी ने उषा से संपर्क किया और उनकी योजना थी कि उषा और निक्की दीपक सेठी को नशीला पदार्थ खिलाकर उससे उसके साथ लूटपाट करेंगे। मधुमिता भी उषा के पीछे थी और रात के दौरान उसने उषा को फोन किया और मृतक का सामान लूटने के बाद उसे अपने साथ ले गई। आरोपी उषा उर्फ़ अंजलि उर्फ़ निकिता पानीपत के रहने वाली है और उसने अंकुर नाम के व्यक्ति के साथ शादी की थी. जिससे उसका तलाक तलाक हो गया था। उसके तीन बच्चे है वह पहले भी थाना मॉडल टाउन पानीपत में स्नैचिंग के एक मामले में जेल जा चुकी है पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार करके आगे की कार्रवाई शुरू कर दी है। 

रिपोर्ट,  प्रिंस जायसवाल

Business

Delhi : नरेला में बैंक के बाहर 80 लाख रुपए लेकर निकले व्यापारी से लूट।

Published

on

By

बाहरी उत्तरी दिल्ली के नरेला में बैंक के बाहर 80 लाख रुपए लेकर निकले व्यापारी से लूट। व्यापारी 80 लाख रुपए लेकर स्कूटी से चला था तभी एक बाइक पर सवार तीन युवकों ने हवाई फायरिंग की और उसे जमीन पर गिराकर 80 लाख रुपए लूटकर फरार हो गए । फिलहाल नरेला थाना पुलिस जांच में जुटी अभी तक लुटेरों का सुराग नहीं।
दिल्ली में क्राइम की घटनाएं कम होने का नाम नहीं ले रही है। आज शुक्रवार को दोपहर बाद विनोद नाम का व्यापारी नरेला की नई अनाज मंडी के पास बैंक से 80 लाख रुपए लेकर निकला था और स्कूटी में पैसे रखकर जैसे ही चलने लगा तो एक मोटरसाइकिल पर सवार तीन युवकों ने उसे रिवाल्वर की बट मारकर नीचे गिरा दिया और दो हवाई फायरिंग भी की और 81 लाख रुपए लूटकर लुटेरे मौके से फरार हो गये ।
– फिलहाल नरेला थाना पुलिस मामले की जांच में जुटी है अभी तक लुटेरों का सुराग नहीं लग पाया है। लेकिन लगातार हो रही इस तरह की घटनाओं ने दिल्ली की कानून व्यवस्था पर सवाल जरूर खड़े कर दिए हैं।

Continue Reading

Business

INA मेट्रो ट्रैक पर एक शख्स ने कूदकर आत्महत्या कर ली।

Published

on

By

दिल्ली मेट्रो ,,देर शाम (शनिवार) करीब 7.30 बजे के करीब। INA मेट्रो ट्रैक पर एक शख्स ने कूदकर आत्महत्या कर ली। पुलिस के मुताबिक देर शाम उन्हें करीब 7.38 पर एक शख्स के मेट्रो के समनर कूदने की कॉल मिली थी जिसके बाद पुलिस मौके पर पहुंची। तो पता चला प्लेटफार्म नम्बर 2 पर बदली तरफ जाने वाली मेट्रो ट्रैक पर करीब 30 साल का एक शख्स ट्रैक पर पड़ा हुआ है। जांच में मृतक की पहचान अजितेज के रूप में हुई। जो सत्य निकेतन का रहने वाला था। फिलहाल पुलिस मृतक की बॉडी को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है जांच शुरू कर दी है

Continue Reading

Business

Delhi: जिस दीवार पर उभरी खाटू श्याम की छवि…. मालिक ने दीवार काले पेंट से रंगवाई।

Published

on

By

दिल्ली में जिस दीवार पर उभरी खाटू श्याम की छवि…. मालिक ने दीवार काले पेंट से रंगवाई।

राजधानी दिल्ली के उत्तर पूर्वी स्थित हर्ष विहार इलाके में पांच दिन पहले एक खाली प्लॉट की दीवार पर बाबा खाटू श्याम की छवि दिखाई दी थी. जिसके बाद वहां स्थानीय लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी थी.

उनका कहना है कि बाबा ने साक्षात दर्शन दिए है. जिसके बाद भजन कर प्रसाद बांटे गए। तो वहीं हर्ष विहार का नाम बदलकर खाटू श्याम धाम भी रख दिया गया। लेकिन उस खाली प्लॉट के मालिक ने उस दीवार को काले रंग से पेंट करवा दिया. जिसकी वजह से स्थानीय लोगों में गुस्से का माहौल है.

बता दें, इस घटना के बाद स्थानीय लोगों ने प्रतिमा के ठीक नीचे अपना दरबार लगा दिया था. बता दें कि जिस खाली प्लॉट की दीवार पर बाबा खाटू श्याम की प्रतीमा उभरी थी वहां पर प्लॉट के मालिक ने पुलिस प्रशासन के सामने ही दीवार को काले रंग से पेंट कराकर बाबा की छवि को मिटाने का प्रयास किया.

जिसके बाद श्रद्धालु बेहद आक्रोशित हुए। बताया जा रहा है कि भीड़ देख प्लॉट का मालिक काफी ज्यादा परेशान हो गया था. जिसके चलेत उसने यह किया. क्योंकि लोग यहां मंदिर बनाने के बारे में सोचने लगे थे.

वहीं श्रद्धालुओं का कहना है कि खाटू श्याम की प्रतिमा वाली जगह पर अब एक मंदिर का निर्माण किया जाना चाहिए क्योंकि भगवान इस तरह किसी भी दीवार पर नहीं दिखते। इसके कई वीडियोज और फोटोज भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे हैं. जब से लोगो को इस बात की भनक लगी है, तभी से हजारों की तादाद में लोग हर्ष विहार के C-ब्लॉक की गली नंबर 31 में पहुंच रहे हैं।

Continue Reading

Trending