Connect with us

Uncategorized

दिल्ली : बिस्तर, ऑक्सीजन और दवाओं के बाद अब वैक्सीन भी नहीं – Delhi Samachar

Published

on

देश की राजधानी का स्वास्थ्य सिस्टम कोरोना मरीजों को इलाज देने में नाकाफी साबित हो रहा है। बिस्तर, ऑक्सीजन व जरूरी दवाओं के लिए मची मारामारी के बीच अब कोरोना से बचने के लिए वैक्सीन भी खत्म हो चुकी है।

हालात इस कदर खराब हैं कि केंद्र सरकार आगामी एक मई से दिल्ली सहित पूरे देश में 18 वर्ष से अधिक आयु के लोगों का टीकाकरण शुरू कर रही है। दिल्ली में कोविन वेबसाइट ने युवाओं को हैरान कर दिया है।

इसे लेकर मिलीं शिकायतों के बाद जब ‘अमर उजाला’ संवाददाता ने जमीनी हकीकत पता करने का प्रयास किया तो राजधानी के सरकारी और प्राइवेट केंद्रों की स्थिति सामने आई। पड़ताल में पता चला कि दिल्ली को 16 जनवरी से अब तक 36,90,710 डोज मिली हैं, जिनमें से 3.96 फीसदी बर्बाद हो गईं। 32,43,300 डोज का इस्तेमाल किया गया।

फिलहाल 4,47,410 लाख डोज उपलब्ध हैं। साथ ही अगले तीन दिन में राजधानी को 1.50 लाख वैक्सीन डोज और मिलने वाली हैं। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के यह आंकड़े राजधानी में वैक्सीन की कमी नहीं बता रहे हैं, लेकिन स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन का कहना है कि दिल्ली में अभी वैक्सीन नहीं है। कंपनियों से कहा है कि जल्द से जल्द आपूर्ति करें।

पंजीयन के बाद सामने आई सच्चाई
एक मई से चौथा चरण शुरू होने के चलते 32 वर्षीय शेफाली गुलाटी ने बुधवार को कोविन वेबसाइट पर पंजीयन किया, लेकिन ओटीपी उन्हें अगले दिन बृहस्पतिवार सुबह मिला। उन्होंने फिर प्रयास किया तो पंजीयन हो गया, परंतु अप्वाइंटमेंट ही नहीं मिला। कोविन वेबसाइट पर लिखा था कि अभी आपके लिए किसी भी केंद्र पर वैक्सीन नहीं है। शेफाली का कहना है कि दिल्ली में न बेड हैं और न ऑक्सीजन। दवाएं मिल नहीं रही हैं। अब वैक्सीन का भी यह हाल हो चुका है।

केंद्रों ने कहा, गिनती की डोज हैं
पूर्वी दिल्ली के चार अलग-अलग वैक्सीन केंद्रों पर पहुंचकर जब स्टॉक के बारे में जानकारी ली गई तो पता चला कि उनके पास नए लोगों के लिए वैक्सीन नहीं है। चाचा नेहरू अस्पताल में केवल 58 डोज हैं। एलबीएस में 66 और विरमानी में 76 डोज हैं, लेकिन यह सभी 45 वर्ष से अधिक आयु वालों के लिए हैं। साथ ही यह डोज उन्हीं लोगों के लिए हैं जिन्होंने हाल ही में दूसरी डोज के लिए अप्वाइंटमेंट लिया था।

स्पूतनिक का पता नहीं, कोविशील्ड थोड़ी बची
राजीव गांधी सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल स्थित वैक्सीन भंडारण में जब वास्तविक स्थिति का पता लगाया गया तो वहां मौजूद कर्मचारी रमेश कुमार ने कहा कि स्पूतनिक वैक्सीन का उन्हें कोई आइडिया नहीं है। अभी उनके पास केवल कोविशील्ड वैक्सीन के ही वॉयल हैं और वह भी ज्यादा नहीं है। वहीं, कर्मचारी विवेक सिंह ने कहा कि कोवाक्सिन तो उनके पास पहले से ही वितरित हो चुकी है। वह केंद्र सरकार के ही अस्पतालों में मिल रही है।

कोरोना से लड़ने वाली स्वास्थ्य सेवाओं की हालत

  1. अस्पताल में बेड : खाली नहीं
  2. वेंटिलेटर : एक भी खाली नहीं
  3. मरीजों को ऑक्सीजन : मुश्किल भरा
  4. रेमडेसिविर, टोसिलिजुमैब : नहीं
  5. ऑक्सीजन के नए सिलिंडर : नहीं
  6. कोरोना वैक्सीन की डोज : आउट ऑफ स्टॉक
  7. ऑक्सीमीटर व अन्य चिकित्सीय उपकरण : बाजार में नहीं
  8. मरीजों को फोन पर चिकित्सीय सलाह : वो भी नहीं
  9. मरीजों के लिए हेल्पलाइन : व्यस्त ही व्यस्त
  10. शवों के लिए एंबुलेंस : लंबी वेटिंग
  11. श्मशान घाट पर लकड़ी : आउट ऑफ स्टॉक
  12. मरीजों के लिए एंबुलेंस : लंबी वेटिंग

please share with everyone

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Uncategorized

सीएम केजरीवाल की न्यायिक हिरासत बढ़ी, ईडी का दावा- केजरीवाल ने मांगी थी 100 करोड़ की रिश्वत

Published

on

By

दिल्ली की राउज एवेन्यू कोर्ट ने कथित शराब घोटाले से जुड़े मनी लांड्रिंग केस में बुधवार को सुनवाई के दौरान प्रवर्तन निदेशालय अरविंद केजरीवाल की ओर से 100 करोड़ रुपये की रिश्वत मांगे जाने का दावा किया।

रॉउस एवेन्यू कोर्ट द्वारा सीएम केजरीवाल की न्यायिक हिरासत 3 जुलाई तक बढ़ा दी गई है। वहीं केजरीवाल की जमानत याचिका का विरोध करते हुए जांच एजेंसी ने यह भी स्पष्ट किया कि रिश्वत के आरोप केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) की तरफ से लगाए गए थे। ईडी ने अदालत को बताया कि केजरीवाल ने आप पार्टी के लिए साउथ ग्रुप से रिश्वत की मांग की। अगर आम आदमी पार्टी को मामले में आरोपी बनाया गया है तो पार्टी के प्रभारी व्यक्ति को दोषी ठहराया जाएगा। ईडी ने अदालत को बताया कि जब इस मामले में पूर्व उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया को आरोपी बनाया गया था, तो उस वक्त आम आदमी पार्टी को आरोपी के रूप में नामित नहीं किया गया था।

बता दें सुनवाई के दौरान अरविंद केजरीवाल कोर्ट में वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिये पेश हुए।

प्रवर्तन निदेशालय ने आप नेता के खिलाफ कई आरोप लगाए और कहा कि उनके पास इस बात के सबूत हैं कि उन्होंने 100 करोड़ रुपए के रिश्वत मांगी थी। सॉलिसिटर जनरल राजू ने कहा कि सीबीआई जांच से पता चलता है कि केजरीवाल ने 100 करोड़ रुपये की रिश्वत मांगी थी।

एएसजी राजू ने कहा, हमने गिरफ्तारी से पहले ही सबूत जुटाए थे। वे गिरफ्तारी के समय पर सवाल उठाते हुए कह रहे हैं कि जुलाई 2023 के बाद उनके खिलाफ कुछ नहीं है।

Continue Reading

Uncategorized

दिल्ली-NCR में मिली गर्मी से राहत, ठंडी हवा से खिले लोगों के चेहरे, दस्तक देगा मानसून

Published

on

By

राजधानी दिल्ली में अचानक मौसम में बदलाव से लोगों के चेहरे खिल उठे हैं। उत्तर भारत में बीते 40 दिन से प्रचंड गर्मी  और लू की मार झेल रहे लोगों को बुधवार रात आई आंधी से थोड़ी राहत मिली। आज दिल्ली-एनसीआर में ठंडी हवा चल रही है और आसमान में बादल छाए हुए हैं। मौसम विभाग ने कई इलाकों में अगले दो घंटे में बारिश और आंधी आने की संभावना जताई है।

ऐसा लग रहा है जैसे सुखी बंजर प्यासी धरती पर उम्मीद की बूंदे गिरी है। मौसम विभाग के मुताबिक सुबह 7:21 उत्तरी दिल्ली, उत्तर-पूर्वी दिल्ली, उत्तर-पश्चिम दिल्ली, पश्चिमी दिल्ली, मध्य दिल्ली, एनसीआर सोनीपत, रोहतक, खरखौदा (हरियाणा) बागपत, खेकड़ा, मोदीनगर, पिलखुआ (यूपी) के कुछ स्थानों और आसपास के क्षेत्रों में अगले 2 घंटों के में हल्की बारिश हो सकती है और हवा चलने की संभवना है।

गुरुवार सुबह दिल्ली में मौसम में हल्की करवट लिए और दिल्ली के कई लाखों में हल्की बारिश देखने को मिली है जिसके बाद तापमान में गिरावट भी हुई। बुधवार को अधिकतम तापमान सामान्य से पांच डिग्री अधिक 43.6 डिग्री दर्ज हुआ। दिल्ली का पीतमपुरा इलाके 45.1 डिग्री तापमान के साथ सबसे गर्म रहा, जबकि पूसा इलाके की रात सबसे गर्म रही। यहां न्यूनतम तापमान 35.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। रिज को छोड़कर अन्य इलाकों में न्यूनतम तापमान 33 डिग्री से ऊपर ही रहा। पालम और आयानगर में अधिकतम तापमान 44.7 डिग्री दर्ज हुआ।

Continue Reading

Uncategorized

दिल्ली के CM अरविंद केजरीवाल की जमानत याचिका पर कोर्ट में सुनवाई आज

Published

on

By

दिल्ली की राउज एवेन्यू कोर्ट दिल्ली आबकारी घोटाला मामले कि आरोपी और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के मेडिकल चेकअप के दौरान वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए उनकी पत्नी सुनीता केजरीवाल को शामिल होने की अनुमति देने की मांग पर सुनवाई करेगी।

वहीं , सीएम केजरीवाल की नियमित जमानत याचिका पर राऊज एवेन्यू कोर्ट में सुनवाई शुरू हो रही है। स्पेशल जज न्याय विंदु की अदालत में ये सुनवाई चल रही है। ED की तरफ से ASG एस वी राजू और केजरीवाल के वकील विक्रम चौधरी अदालत में मौजूद हैं। विक्रम चौधरी ने अदालत को बताया कि केजरीवाल की गिरफ्तारी और रिमांड को चुनौती देने वाली याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने फैसला सुरक्षित किया हुआ है।

बता दें, 14 जून को कोर्ट ने तिहाड़ जेल प्रशासन को नोटिस जारी किया था 14 जून को सुनवाई के दौरान केजरीवाल की ओर से पेश वकील और हरिहरन ने कहा था कि केजरीवाल के मेडिकल चेकअप के दौरान उनकी पत्नी को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के दौरान जुड़े रहने की अनुमति दी जाए।

दरअसल केजरीवाल के वकील ने कहा कि अरविंद केजरीवाल दिल्ली के मुख्यमंत्री है, एक राष्ट्रीय पार्टी के मुखिया है, उसने समाज को कोई खतरा नहीं है, यह मामला अगस्त 2022 से लंबित है, केजरीवाल को 2024 में गिरफ्तार किया गया, सुप्रीम कोर्ट ने 10 मई के अपने आदेश में कहा था केजरीवाल निचली अदालत में ज़मानत याचिका दाखिल कर सकते है।

Continue Reading

Trending